Dosti Shayari in Hindi | दोस्ती शायरी हिन्दी मे

Dosti Shayari – सभी को अपनी ज़िंदगी में कुछ ऐसे दोस्त जरूर बनाने चाहिए, जिससे हम हर बाते शेयर कर सकें। कुछ बाते ऐसी होती हैं जिन्हें हम अपने घरवालों से नहीं कर सकते हैं, उन बातों को हम अपने दोस्तों से आसानी से शेयर कर लेते हैं। एक सच्चा दोस्त हमारे हर सुख दुःख में शामिल रहता है।

आज के इस पोस्ट में हम Dosti Shayari का बेहतरीन कलेक्शन लेकर आए है। जिन्हें आप अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं साथ ही अपने स्टेटस, प्रोफाइल में लगा सकते हैं। ये Dosti Shayari आपको बहुत पसंद आने वाली है इसलिए अंत तक जरूर पढ़ें।

Dosti Shayari In Hindi
Dosti Shayari In Hindi

Dosti Shayari In Hindi – दोस्ती शायरी इन हिंदी

दोस्ती के लिए दिल तोड़ सकते हैं,
पर दिल के लिए दोस्ती नहीं।

dosti ke liye dil tod sakte hain,
par dil ke liye dosti nahin.

बच्चे वसीयत पूछते है ,रिश्ते हैशियत पूछते है,
वो दोस्त ही है जो मेरी खैरियत पूछते है।

bachche wasiyat poochhte hai, rishte haishiyat poochhte hai,
wo dost hi hai jo meri khairiyat poochhte hai.

दोस्त एक भी होगा तो चलेगा पर, फेक नहीं होना चाहिए,
जब भी सुकून की बात आती है यार कुछ दोस्तों की बहुत याद आती है।

dost ek bhi hoga to chalega par, fek nahin hona chahiye,
jab bhi sukoon ki baat aati hai yaar kuchh doston ki bahut yaad aati hai.

दुश्मन के सितम का खौफ नहीं हमको,
हम तो दोस्तों के रूठ जाने से डरते हैं।

dushman ke sitam ka khauf nahin hamko,
ham to doston ke rooth jaane se darte hain.

जिस प्रकार पानी के बिना नदी बेकार है, अतिथि के बिना आँगन बेकार है।
उसी प्रकार जीवन में दोस्त ना हो तो जीवन बेकार है।

jis prakar paani ke bina nadi bekar hai, atithi ke bina angan bekar hai.
usi prakar jeevan mein dost na ho to jeevan bekar hai.

हमने अपने नसीब से ज्यादा अपने दोस्तो पर भरोसा रखा है,
क्योकि नसीब तो बहुत बार बदला है, लेकिन मेरे दोस्त अभी भी वही हैं।

hamne apne naseeb se jyada apne dosto par bharosa rakha hai,
kyoki naseeb to bahut baar badala hai, lekin mere dost abhi bhi wahi hain.

खींचकर उतार देते है उम्र की चादर,
कम्बख्त ये दोस्त कभी बूढा नहीं होने देते।

khinchkar utar dete hai umra ki chaadar,
kambakht ye dost kabhi boodha nahin hone dete.

Friendship Dosti Shayari – सच्ची दोस्ती शायरी

जब कोई ख्याल दिल से टकराता है, दिल न चाहकर भी खामोश रह जाता है,
कोई सब कुछ कहकर दोस्ती जताता है, कोई कुछ न कहकर दोस्ती निभाता है।

jab koi khyaal dil se takrata hai, dil na chahkar bhi khamosh rah jata hai,
koi sab kuchh kahkar dosti jatata hai, koi kuchh na kahkar dosti nibhata hai.

दोस्ती भी कमाल की होती है,
वजनदार होती है फिर भी बोझ नहीं लगती।

dosti bhi kamal ki hoti hai,
vajandar hoti hai phir bhi bojh nahin lagti.

हर मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त, हर गम को बांट लेते है दोस्त।
ना रिश्ता खून का ना रिवाज से बंधा फिर भी जिन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त।

har mushkilon mein saath dete hain dost, har gam ko baant lete hai dost.
na rishta khoon ka na riwaaj se bandha phir bhi jindagi bhar sath dete hain dost.

अगर बात दिल से कही गई हो तो वो दिल को छू लेती है,
और कुछ बिन कही बात भी कुछ कह देती है,
कुछ लोग तो दोस्ती का मतलब ही बदल देते है,
और कुछ की तो दोस्ती से ही ज़िन्दगी बदल जाती है।

agar baat dil se kahi gai ho to wo dil ko chhu leti hai,
aur kuchh bin kahi baat bhi kuchh kah deti hai,
kuchh log to dosti ka matlab hi badal dete hai,
aur kuchh ki to dosti se hi zindagi badal jaati hai.

फर्क तो अपने-अपने सोच में है,
वरना दोस्ती भी मोहब्बत से कम नही होती।

fark to apne-apne soch mein hai,
warna dosti bhi mohabbat se kam nahi hoti.

दोस्ती तो वो है जो तेज़ बारिश मे भी,
चेहरे पर गिरे हुये आँसू पहचान लेती है।

dosti to wo hai jo tej barish mein bhi,
chehre par gire huye aansu pahchan leti hai.

जो आसानी से मिले वो हैं धोखा, जो दिल से मिले वो हैं प्यार।
जो मुश्किल से मिले वो हैं इज्ज़त, मगर जो नसीब से मिले वो हैं दोस्त।

jo aasani se mile wo hain dhokha, jo dil se mile wo hain pyar.
jo mushkil se mile wo hain ijjzat, magar jo naseeb se mile wo hain dost.

Love Dosti Shayari – अटूट दोस्ती शायरी

अपनी जिंदगी के अलग असूल है,
यार‬‬ की खातिर तो कांटे भी कबूल है।

apni jindagi ke alag asool hai,
yaar‬‬ ki khatir to kante bhi kabool hai.

ज़िन्दगी इतिहास फिर नही दोहराती, हर पल हर मोड़ पर है दोस्तों की याद आती,
ज़िन्दगी दोस्ती के लम्हो में है गुम हो जाती, उन लम्हो को सोच कर हमारी आँखे हैं नम हो जाती।

zindagi itihaas phir nahi dohrati, har pal har mod par hai doston ki yaad aati,
zindagi dosti ke lamho mein hai gum ho jati, un lamho ko soch kar hamari ankhe hain nam ho jati.

देखी जो नब्ज मेरी तो हँस कर बोला हकीम,
तेरे मर्ज़ का इलाज महफ़िल है तेरे दोस्तों की।

dekhi jo nabj meri to hans kar bola hakeem,
tere marz ka ilaaj mahfil hai tere doston ki.

जब दोस्त नहीं हो तो कुत्ते भी सताते हैं,
और एक ही कमीना दोस्त साथ हो तो शेर भी घबराते हैं।

jab dost nahin ho to kutte bhi satate hain,
aur ek hi kamina dost sath ho to sher bhi ghabrate hain.

दोस्ती का लम्हा ऐसा होता है,
जो कभी तन्हा नहीं रहने देता।

dosti ka lamha aisa hota hai,
jo kabhi tanha nahin rahne deta.

दोस्त को दौलत की निगाह से मत देखो,
वफा करने वाले दोस्त अक्सर गरीब हुआ करते हैं।

dost ko daulat kee nigaah se mat dekho,
wafa karne wale dost aksar gareeb hua karte hain.

तेरी मेरी दोस्ती इतनी खास हो, की दुनिया कहे,
काश ऐसा दोस्त मेरे पास भी हो।

teri meri dosti itni khaas ho, ki duniya kahe,
kash aisa dost mere paas bhi ho.

Sad Dosti Shayari – दुखी दोस्ती शायरी

दोस्ती इम्तिहान नहीं एतबार मांगते है,
नजरें कुछ और नहीं बस दोस्त की खुशी मांगते है।

dosti imtihaan nahin aitbaar maangti hai,
najren kuchh aur nahin bas dost ki khushi mangte hai.

दोस्ती एक वो एहसास होता है, जो अनजाने लोगो को भी पास लाता है,
जो हर पल साथ दे वही दोस्त कहलाता है,
वरना तो अपना साया भी साथ छोड़ जाता है।

dosti ek wo ehsaas hota hai, jo anjaane logo ko bhi paas lata hai,
jo har pal saath de wahi dost kahlata hai,
warna to apna saya bhi sath chhod jata hai.

स्कूल के दोस्त कितने भी कमीने हो,
स्कूल खत्म होने के बाद उनकी याद बहुत आती है।

school ke dost kitne bhi kamine ho,
school khatm hone ke baad unki yaad bahut aati hai.

प्यार में भले ही जूनून है,
मगर दोस्ती में सुकून है।

pyar mein bhale hi junoon hai,
magar dosti mein sukoon hai.

रिश्तो से बड़ी कोई चाहत नही होती,
और दोस्ती से बड़ी कोई इबादत नही होती।

rishton se badi koi chahat nahin hoti,
aur dosti se badi koi ibadat nahi hoti.

चाहे भाड़ में जाए ये दुनिया सारी,
पर कभी नहीं टूटने देंगे ये दोस्ती हमारी।

chahe bhad mein jaye ye duniya saari,
par kabhi nahi tootne denge ye dosti hamari.

हमारी दोस्ती एक दूजे से ही पूरी है,
वरना रास्ते के बिना तो मंज़िल अधूरी है।

hamari dosti ek dooje se hi poori hai,
warna raste ke bina to manzil adhoori hai.

Dosti Shayari 2 Line – दोस्ती शायरी दो लाइन

तेरी दोस्ती में ज़िन्दगी में तूफान मचाएंगे, तेरी दोस्ती में दिल के अरमान सजायेंगे,
अगर तेरी दोस्ती ज़िन्दगी भर साथ दे, तो हम दोस्ती में मौत को भी पीछे छोड़ जायेंगे।

teri dosti mein zindagi me toofaan machayenge, teri dosti mein dil ke arman sajayenge,
agar teri dosti zindagi bhar saath de, to ham dosti mein maut ko bhi peechhe chhod jayenge.

चांद की दोस्ती रात से सुबह तक, सूरज की दोस्ती सुबह से रात तक।
पर हमारी दोस्ती, पहली मुलाकात से लेकर आखरी सांस तक।

chand ki dosti raat se subah tak, sooraj ki dosti subah se raat tak.
par hamari dosti, pahali mulakat se lekar akhari saans tak.

जब मोहब्बत हाथ छोड़ देती है,
तब दोस्त ही कदम से कदम मिलाकर चलते हैं।

jab mohabbat hath chhod deti hai,
tab dost hi kadam se kadam milakar chalte hain.

दोस्ती वो नही जो मिट जाये, रास्तो की तरह कट जाये,
दोस्ती तो वो प्यारा एहसास है, जिसमे सब कुछ पल भर में ही सिमट जाये।

dosti wo nahi jo mit jaye, rasto ki tarah kat jaye,
dosti to wo pyara ehsaas hai, jisme sab kuchh pal bhar mein hi simat jaye.

सच्चे दोस्त हमे कभी गिरने नही देते हैं,
न किसी की नज़रो में ना किसी के कदमो में।

sachche dost hame kabhi girne nahi dete hain,
na kisi ki nazro mein na kisi ke kadmo mein.

प्यार में अक्सर कम हो जाती है दोस्ती,
पर दोस्ती में प्यार कभी कम नहीं होता।

pyar mein aksar kam ho jati hai dosti,
par dosti mein pyar kabhi kam nahin hota.

भले ही मेरे दोस्त कम हैं,
पर जितने भी हैं एटम बम हैं।

bhale hi mere dost kam hain,
par jitne bhi hain atom bomb hain.

Beautiful Dosti Shayari – खूबसूरत दोस्ती शायरी

कुछ अलग शौक है मेरी दुनिया वालों से,
यार कम ही रखता हूँ पर बहुत ख़ास रखता हूँ।

kuchh alag shauk hai meri duniya walon se,
yaar kam hi rakhta hoon par bahut khas rakhta hoon.

न जाने कौन सी दौलत है कुछ दोस्तों के लफ्जों में,
बात करते हैं तो दिल ही खरीद लेते हैं।

na jaane kaun si daulat hai kuchh doston ke lafjon mein,
baat karte hain to dil hi khareed lete hain.

कुछ तो बात है तेरी फितरत में ऐ दोस्त,
तुझे याद करने की खता हम बार-बार न करते।

kuchh to baat hai teri fitrat mein ai dost,
tujhe yaad karne ki khata ham bar bar na karate.

दोस्ती मेरी बड़े लोगों के साथ ना सही पर,
साथ देने वालों के साथ जरूर है।

dosti meri bade logon ke sath na sahi par,
saath dene walon ke sath jaroor hai.

वो दोस्त मेरी नजर में बहुत माएने रखते है,
वक़्त आने पर सामने जो मेरे आइने रखते है।

wo dost meri najar mein bahut mayne rakhte hai,
waqt aane par samne jo mere aaine rakhte hai.

दोस्त भले ही एक हो, पर ऐसा हो जो,
अल्फाजों से ज्यादा खामोशियों को समझे।

dost bhale hi ek ho, par aisa ho jo,
alphajon se jyada khamoshiyon ko samjhe.

ऐ दोस्त न कभी दूर जाना, न कभी हम दूर जाएंगे,
अपने अपने हिस्से की दोस्ती खूब से निभाएंगे।

ai dost na kabhi door jana, na kabhi ham door jayenge,
apne apne hisse ki dosti khoob se nibhayenge.

Zindagi Aur Dosti Shayari – जिंदगी दोस्ती शायरी

इतिहास के हर पन्ने पर लिखा है,
दोस्ती कभी बड़ी नहीं होती, निभाने वाले हमेशा बड़े होते हैं।

itihaas ke har panne par likha hai,
dosti kabhi badi nahin hoti, nibhane wale hamesha bade hote hain.

वक्त की यारी तो हर कोई करता है मेरे दोस्त,
मजा तो तब है जब वक्त बदल जाये पर यार ना बदले।

waqt ki yaari to har koi karta hai mere dost,
maja to tab hai jab waqt badal jaye par yaar na badle.

यदि कोई आपकी गलती आपके मुंह पर कहने की ताकत रखता है.
तो आपके लिए उससे अच्छा दोस्त कोई और नहीं हो सकता।

yadi koi aapki galti aapke muh par kahne ki takat rakhta hai.
to apke liye usse achchha dost koi aur nahin ho sakta.

दोस्ती शायरी क्या लिखूं तेरे नाम?
तू तो खुद ही एक शायरी की तरह मेरे जीवन को अर्थ देता है मेरे दोस्त।

dosti shayari kya likhu tere nam?
too to khud hi ek shayari ki tarah mere jiwan ko arth deta hai mere dost.

हर दुआ मेरी कबूल हो गयी है,
तेरे जैसा दोस्त जो मुझे मिल गयी है।

har dua meri kabool ho gayi hai,
tere jaisa dost jo mujhe mil gayi hai.

अच्छी किताबें और सच्चे दोस्त तुरंत समझ में नहीं आते,
पर काम जरुर आते है।

achchhi kitaben aur sachche dost, turant samajh mein nahin aate,
par kaam jarur ate hai.

छोटी सी जिंदगी में कुछ दोस्त हमे ऐसे मिल गए,
कुछ दिल में उतर गए तो कुछ दिल से उतर गए।

chhoti si jindagi mein kuchh dost hame aise mil gaye,
kuchh dil mein utar gaye to kuchh dil se utar gaye.

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है आपको दोस्ती शायरी (Dosti Shayari) जरूर पसंद आया होगा। हमारी जिन्दगी में सच्चे दोस्तों की बहुत अहिमियत होती है। बिना दोस्तों के ज़िंदगी अधूरी सी लगती रहता है। आपको यह Dosti Shayari कैसी लगी कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं। इसके अलावा अगर यह पोस्ट आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर भी जरूर शेयर करे।

अन्य पढ़ें –

5/5 - (1 vote)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *